Data Types In C++ In Hindi

Data Types In C++ In HindiDear Students, आज के इस Lecture में हम सीखेंगे Data Types in C++ के बारे में यानी की C++ के Data Type के बारे में. और साथ ही साथ हम Different Types of data types in C++ के बारे में भी पड़ेगे.

मतलब C++ में Data Types कितने प्रकार के होते है और सबसे important topic की C++ Language मैं कौन सा data Type Memory में कितना Space Occupies करता है. यह भी हम data Types in C++ के Lecture में ही पड़ेगे.

Lectures Covering Topics – Data Types In C++ In Hindi –  सी++ में डाटा टाइप्स क्या है

  • What Is Data Types In C++ In Hindi – सी++ में डाटा टाइप्स क्या है
  • Definition Of Data Types In C++ In Hindi – सी++ में डाटा टाइप्स की परिभाषा
  • Different Types Of Data Types In C++ In Hindi – सी++ में डाटा टाइप्स कितने प्रकार के होते है
  • Basic Data Types In C++ In Hindi – बेसिक डेटा टाइप्स क्या होते है
  • User Define Data Types In C++ In Hindi – यूजर डिफाइन डाटा टाइप्स क्या होते है

Data Types In C++ In Hindi – सी++ में डाटा टाइप्स क्या है

Student’s जब हम कोई वेरिएबल Create करते है. तो हमें अपने Compiler को बताना होता है की हम किस तरह का वेरिएबल Create करेंगे. मतलब की हम Compiler को बतायेगे की हमारा वेरिएबल किस तरह की वैल्यू को स्टोर करेगा.

जिस तरह का आपने वेरिएबल Create किया होगा Compiler उतनी ही memory उस वेरिएबल को computer system की memory में से दे देता है. जैसा की आप नीचे लिखे हुए स्टेटमेंट में देख सकते है.

Char ch;

उपर लिखा हुआ Statement Compiler को बताता है. की आप ch वेरिएबल में एक character (a, b, c, d, e) hold कराने वाले है. अब किसी भी एक  character को स्टोर करने के लिए जितनी भी मेमोरी की जरुरत होती है. Compiler उतनी ही मेमोरी इस ch वेरिएबल को allot करा देता है. जिसमे ch variable चार byte की मेमोरी लेता है.

यदि किसी भी programming language में data types न हो तो हमें अपने कंप्यूटर सिस्टम की मेमोरी बहुत ही waste करनी पड़ेगी. जिस जगह हमारा काम 4 bytes की मेमोरी में हो सकता है. हम वहाँ 30 बाइट की मेमोरी waste कर सकते है.

इसलिए Student एक अच्छा प्रोग्रामर बही होता है. जो प्रोग्रामिंग के साथ साथ अपने प्रोग्राम की Space Complexity को भी बचाये. तो आपको जिस Type का डाटा स्टोर करना है उसी प्रकार का वेरिएबल डिफाइन करे. नीचे सभी डाटा Types की Range और Maximum मेमोरी Limit डिफाइन की गयी है.

Definition Of Data Types In C++ In Hindi – सी++ में डाटा टाइप्स की परिभाषा

एक डाटा Type किसी वेरिएबल की वैल्यू (यानि char, number, float, double आदि) और उस वेरिएबल पर होने वाले सभी Operation को डिफाइन करता है. सभी डाटा Types का मेमोरी में मेमोरी Storage Representation Different होता है. अगर आपको अपने एग्जाम में डाटा टाइप्स की परिभाषा अंग्रेजी में लिखनी है तो आप इस तरह से लिख सकते है-

(A Data Type defines a domain of allowed Value and the operation that can be performed on those value. Storage Representation of Different data Types Is Different in memory.)

सी++ में डाटा टाइप्स के प्रकार – Types Of Data Types In C++ In Hindi

Students C Programming Language 4 तरह के Data Types को सपोर्ट करती है जिन्हें Primitive data types भी कहा जाता है.

  • Basic Data Types
  • Derived Data Types
  • User Define Data Types
  • Void Data Types
  • Enum Data Types

types of data types in Cpp

बेसिक डेटा टाइप्स (Basic Data Types):- Basic डाटा Types Integer – based और Floating – Point based दोनों पर Depend है. C++ लैंग्वेज Signed और Unsigned Literals दोनों को सपोर्ट करती है.

basic data types in cpp

Memory में basic data Types का Size 32-64 bit Operating System के According Change ho सकता है. परन्तु हम यह आपको 32 bits Operating System के according बता देते है.

Data Types Memory Size Range
char 1 byte -128 to 127
signed char 1 byte -128 to 127
unsigned char 1 byte 0 to 255
short 2 byte −32,768 to 32,767
signed short 2 byte −32,768 to 32,767
unsigned short 2 byte 0 to 65,535
int 2 byte −32,768 to 32,767
signed int 2 byte −32,768 to 32,767
unsigned int 2 byte 0 to 65,535
short int 2 byte −32,768 to 32,767
signed short int 2 byte −32,768 to 32,767
unsigned short int 2 byte 0 to 65,535
long int 4 byte -2,147,483,648 to 2,147,483,647
signed long int 4 byte -2,147,483,648 to 2,147,483,647
unsigned long int 4 byte 0 to 4,294,967,295
float 4 byte  
double 8 byte  
long double 10 byte  

Derived Data Types In C++ In Hindi

Derived डाटा टाइप्स वो डाटा Types होते है जो user डिफाइन करते है. इसलिए इन्हें user डिफाइन डाटा Type भी कहते है. यानी की derived डाटा Type भी basic डाटा types से ही बने होते है.

C++ मैं 3 तरह के derived data types होते है.

  • Array
  • Function
  • Union
  • Pointer
  • Sturcture

derived data types in cpp

Void Data Types In Hindi

Students void डाटा Types का प्रयोग हम तब करते है जब हमें वैल्यू के बारे में पता नही होता है. Void डाटा Type को ज्यादातर function के साथ प्रयोग किया जाता है. और सबसे जादा इसे हम मैं function के साथ प्रयोग करते है.

नीचे वो Situation लिखी हुई है जहां आप Void Type का प्रयोग कर सकते हो.

  • यदि हम फंक्शन में कोई पैरामीटर नहीं ले रहे है. तो हम वह पर Void Data Type का प्रयोग करेंगे Void Type हमें यह बतायेगा की हम यहां पर कोई Arguments नहीं ले रहे है.
  • जब हमारा कोई Function वैल्यू Return नहीं करता है तो हम उस Function का ReturnType Void डिफाइन करते है. Example के लिए आप इस तरह से अपना Function डिफाइन कर सकते है. Void fun();.
  • जब हमें Confirm न हो की Pointer वेरिएबल किस टाइप के वेरिएबल को पॉइंट करेगा तो हम उसका टाइप Void डिफाइन कर सकते है. तब हम Void पॉइंटर से किसी भी वेरिएबल को पॉइंट करा सकते है.

User Define Data Types In C++

यह User डिफाइन डाटा Types वे डाटा type होते है जिन्हे आप प्रोग्रामर के रूप में डिफाइन करते है. इस डाटा type को हम Self डिफाइन डाटा Types भी कहते है. इसके बारे में आपने C लैंग्वेज में भी पड़ा होगा. यह C में पूरी तरह से Allow नहीं किये जाते है.

ये Data Types C++ में पूरी तरह से Allowed होते है. और C++ में हमें कुछ नए DataTypes और Create करने की Facility दी जाती है. जिससे C++ Object Oriented Programming Language बनती है.

नीचे बताये हुए सभी User Define Data Types C++ में काम करते है. लेकिन C लैंग्वेज में काम नहीं करते है.

  • Class:Class एक User डिफाइन डाटा type होता है. जोकि Structकी तरह ही काम करता है. परन्तु Struct का हम कभी Object Create नहीं कर सकते. और क्लास को कभी बिना ऑब्जेक्ट Create किये Access नहीं किया जा सकता है. नेक्स्ट lecture में class और object के बारे में Details में बताया जाएगा.
  • Enumeration User Define Data Type in C++:- Enumerated डाटा type एक यूजर डिफाइन डाटा Type होता है. जिसके Variable को हम कुछ Limit वैल्यू ही असाइन करा सकते है. वे Value प्रोग्रामर द्वारा Enumerated Type को Declare करते समय पर ही डिफाइन की जाती है. Enumerated डाटा type का Syntax नीचे लिखा हुआ है.

enum enumerated-type-name {value1, value2, value3,……….valuen};

C++ Related Lecture – सी++ से संबंधित Lectures

Dear Students, मैं आशा करता हु की आपको data types in C++ In Hindi का Lecture पढ़ कर समझ में अगया होगा. Data Types क्या होते है और data types कितने प्रकार के होते है. यदि आपको (Data Types in C++ In Hindi) के Lecture से Related कोई भी Problem है तो आप हमे Comments करके पूछ सकते है.

Share This Post On

About Author

Thakur Aman Singh

Hey, I am Aman Singh Tomar from Taj City Agra. Through This Blog I want to share my Knowledge with all of you. Read More >>

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *