Java Vs C++

difference between java and cpp in hindi

Dear Students, आज के इस Lecture में हम सीखेंगे Java vs C++ बारे में. यानी की difference between java and c++ के बारे मै. Java और C++के बीच में अंतर क्या है? साथ में ही देखेंगे की Java और C++ कैसे Compare करेगे. Difference between Java and C++ आदि से related ये सारे topic हम Java vs C++ C में पड़ेगे.

Lectures Covering Topics – Java vs C++ In Hindi – Java और C++ Language के बीच में क्या अंतर है?

  • What is Java & C++
  • Java Vs C++ In Hindi – Java और C++ Language के बीच में क्या अंतर है?
  • Difference Between Java And C++
  • Java Vs C++ Developing Goals In Hindi – Java और C++ Language  विकसित करने का लक्ष्य क्या है?

What is Java & C++ / Java और C+ लैंग्वेज क्या है?

Java एक प्रोग्रामिंग लैंग्वेज और एक स्वतंत्र मंच(Platform Independent) language. जावा एक उच्च स्तर (High Level), सुरक्षित(Secured), वस्तु-उन्मुख(Object-Oriented) प्रोग्रामिंग लैंग्वेज भी है. वस्तु उन्मुख(Object-Oriented) प्रोग्रामिंग एक ऐसे कार्यप्रणाली(Methodology) है जिसमे हम विरासत(Inheritance), कैप्सूलीकरण(Encapsulation) और बहुरूपता(Polymorphism) का उपयोग कर सकते है.

सन माइक्रो सिस्टम कंपनी(Sun Micro System Company) ने जावा प्रोग्रामिंग लैंग्वेज बनायीं है. जिसने बताया कि जावा एक “Simple, Object-Oriented, Distributed, Interpreted, Robust, Secure, Architecture-Neural, Portable, High Performance, Multi threaded And Dynamic” प्रोग्रामिंग भाषा है. Java के बारे में विस्तार से पढ़ने के लिए हमारे C++ क्या है? के Lecture को पड़े.

C++ एक object oriented programming language है. C++ Bjarne stroustrup ने develop की थी. इस Language के आने से पहले C और Simula 67 दोनों popular language थी. Bjarne stroustrup ने C और Simula 67 को मिलकर C++ बनायी थी.

इसको 1979 bell laboratories मैं Develop किया गया था. C++ एक middle level language है. इसमें high level और low level दोनों language के सभी Features होते है. C language के सभी features C++ मैं मिलते है. C++ के बारे में विस्तार से पढ़ने के लिए हमारे C++ क्या है? के Lecture को पड़े.

Difference Between Java & C++ / Java Vs C++ In Hindi – Java और C++ में क्या अंतर है?

जैसा कि मैं आपको Java or C++ दोनों ही language के बारे में बता चूका हु. लेकिन क्या आप जानते है की java language C++ से कैसे different है. यानि कि क्या आप Java Vs C++ के बारे में जानते है. अगर नहीं जानते है तो चलिए आइए जानते है java vs c++ के बारे में.

देखिये जब भी market में कोई भी 2 नयी Language या फिर कोई भी object आते है. तो उनमें कुछ न कुछ तो difference जरूर होता है. फिर वो 2 नए object भले ही किसी एक ही कंपनी के क्यों न हों. ठीख उसी तरह से java or c++ दोनों programming language है. लेकिन दोनों language के बीच कोई न कोई difference तो होगा ही हम यहां उसी difference उसी को find करेगे.

Difference Between Java And C++ (Java Vs C++)

Students java और C++ language में बहुत सारी ऐसी qualities है जो एक दुसरे के सामान है. और बहुत सारी ऐसी qualities भी है जो एक दुसरे से different भी है. तो चलिए आइए जानते है java vs c++ के बारे मैं यानि java और C++ की similarity और dissimilarity के बारे मैं.

1) Platform-independent:-

Java एक platform independent language है और C++ एक platform dependent language है. यानि कि जावा की compile की हुई File को किसी भी platform पर run करा सकते है. C++ की compile की हुई file को हम सिर्फ उसी platform पर उसी मशीन में run करा सकते है.

2) Mainly used for:-

Java का मुख्य रूप से उपयोग application programming के लिए किया जाता है. जैसे Window Application , Web-Based Application, Enterprise और Mobile Applications आदि. और C++ का मुख्य रूप से उपयोग System Programming के लिए किया जाता है.

3) Developing Goal:-

Java को printing system के लिए interpreter के रूप में develop किया गया था लेकिन कुछ समय बाद Java को supported network computing के लिए extended किया गया. इसे public के enterprises audience के उपयोग और assay to access के लिए design किया गया. और C++ language को system programming के लिए design किया गया था और system programming ही C++ के लिए extension था.

4) Goto:-

C++ language goto statement को support करता है. Java language goto statement को support नहीं करता है.

5) Multiple Inheritance:-

Java programming multiple inheritance को support नहीं करता है. और C++ programming multiple inheritance को support करता है.

6) Operator Overloading:-

C++ language operator overloading को support करता है. Java language operator overloading को support नहीं करता है.

7) Pointers:-

C++ language pointers को support करता है. हम C++ में pointers की मदद से C++ में कोई भी program बना सकते है.

Java language pointer को internally support करता है. लेकिन हम java में pointer के मदद से कोई Program नहीं बना सकते है. यानि के java ने java में pointer के support को restricted कर रखा है.

8) Compiler and Interpreter:-

Java language compiler और interpreter दोनों को ही उपयोग करता है. Java compile time पर source code को byte code में convert करता है. और interpreter byte code को run time पर execute करके उसका output produce करता है Java में interpreter का उपयोग होता है इसी बजह से java platform independent है.

C++ language केवल compiler का उपयोग करती है. C++ के program को compile और run करने के लिए compiler का उपयोग होता है. यहां compiler source code को machine code में convert करता है. इसीलिए C++ एक platform dependent language है.

9) Structure & Union:-

Java language structure और union को support नहीं करता है. लेकिन C++ structure और union को support करता है.

10) Call by Value & Call by Reference:-

C++ call by value और call by reference दोनों को Support करता है. लेकिन Java केवल call by value ko को Support करता है. Call by reference को support नहीं करता है.

11) Documentation Comment:-

C++ documentation comment को support नहीं करता है. और java documentation comment को support करता है.

12) Thread Support:-

Java में inbuilt thread support system है. और C++ में inbuilt support system नहीं है. हम C++ thread support के लिए किसी third party की library पर depend करता है.

13) Inheritance Tree:-

C++ हमेशा new inheritance tree create करता है. और java हमेशा single inheritance का उपयोग करता है. क्योंकि java में सभी classes object class के child class होती है. Java में object class ही inheritance tree का root होता है.

14) Object Oriented:-

C++ एक object oriented programming language है. C language में single root hierarchy possible नहीं है. और java भी एक object oriented programming language है. लेकिन java में everything सब कुछ(everything) एक object है सिर्फ except fundamental type को छोड़कर. यह single root hierarchy है क्योंकि java में सब कुछ lang.object में मिलता है.

15) Virtual Keyword:-

C++ virtual keyword को support करता है. ताकि हम ये decide कर सके कि किसी function को override करना है या नहीं. Java के पास कोई भी virtual keyword नहीं है. हम java में सभी static method को override कर सकते है तो non-static method by default virtual keyword है.

16) Unsigned Right Shift >>>:-

C++ unsigned right sift >>> operator को support नहीं करता है. लेकिन java unsigned right shift >>> operator को support करता है. जोकि negative number के लिए top पर zero fill करता है. और positive number के लिए यह >>> के तरह same work करता है.

Java Vs C++ Related Lecture – C और Java Language से संबंधित Lectures

Dear Students, मैं यह आशा करता हूँ की आपको Java और C++ में अंतर (Java vs C++) का Lecture पढ़ कर समझ में आ गया होगा की Java और C++के बीच में अंतर क्या है?. यह Java और C++ दोनों language कैसे अलग अलग है. यदि आपको Java vs C++ के इस Lecture से सम्बंधित कोई भी समस्या है तो आप हमें Comment करके पूछ सकते है.

Share This Post On

About Author

Thakur Aman Singh

Hey, I am Aman Singh Tomar from Taj City Agra. Through This Blog I want to share my Knowledge with all of you. Read More >>

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *